ई मेल क्या हैं – what is email in hindi

email kya hai – आजकल आप देखते हो कि जब भी आपको किसी से संपर्क साधना होता है फिर वह दुनिया के किसी भी कोने में हो वह आपसे आपका ईमेल एड्रेस मांगता है. हर जगह अगर आपको कोई फॉर्म भरना हो, स्कूल का कॉलेज का, किसी सरकारी जॉब का या किसी भी कंपनी में.

यहां तक कि बैंक जैसी चीजों में भी आपसे ईमेल एड्रेस जरूर मांगा जाता है. अगर आप के पास ये ना हो तो आज आपको ऐसे देखा जाएगा मानो एक आदमी बिना सांस के जी रहा हो. क्योंकि ईमेल एड्रेस के बिना कोई भी आप से सीधा संपर्क नहीं साध सकता है.

अब आपका ईमेल एड्रेस आपकी पहचान बन गई है. आपकी यूजरनेम के तौर पर आपके ऑनलाइन वॉलेट, आपके बैंक खातों का आपके सोशल मीडिया का या फिर आपके कॉलेज आईडी से लेकर हर एक चीज अब आपकी पहचान ईमेल एड्रेस के तौर पर ही हो गई है.

आखिर क्यों दुनिया के लोग इस ईमेल एड्रेस को इतना ज्यादा प्रायोरिटी क्यों दे रहे हैं. संपर्क साधने के लिए तो मोबाइल फोन भी है और भी कई सारी चीजें हैं. लेकिन ये इतना खास क्यों कर दिया गया और ईमेल एड्रेस होता क्या है ?

यह काम कैसे करता है ? हम यहां से कुछ भी लिख कर भेज दे कुछ भी चित्र या वीडियो किसी को भेज दे, बस घर पर बैठे-बैठे ही तो दुनिया के सुदूर से सुदूर इलाके तक पहुंच जाता है.

वह कैसे ??? तो बने रहिए इस आर्टिकल के साथ आज आपको यह पता चल जाएगा कि ईमेल एड्रेस आखिर होता क्या है ??

ई मेल क्या हैं –

ई-मेल आप जो शब्द सुनते हैं दरअसल वह शॉर्ट फॉर्म है. इस का फुल फॉर्म होता है इलेक्ट्रॉनिक मेल यानी किसी भी संदेश, पत्र, चित्र, वीडियो या किसी भी डॉक्यूमेंट को इलेक्ट्रॉनिक माध्यम के जरिए से अपने गंतव्य तक पहुंचाना या आप जिस व्यक्ति को आप यह चीज पहुंचना चाहते हो वहां तक पहुंचाना।

मेल का अर्थ तो आप जानते ही होगे कि मेल का मतलब पत्र होता है. पहले के जमाने में लोग अपने पत्र को एक जगह से दूसरी जगह तक पहुंचाने के लिए डाक का प्रयोग करते थे या अपने किसी विशेष व्यक्ति को किसी विशेष स्थान पर भेज कर अपने पत्र को दूसरों तक पहुंचाते थे.

पर अब जमाना बदल गया है अब तो एक संदेश को दूसरे संदेश तक पहुंचाने के लिए व्हाट्सएप फेसबुक और न जाने कितनी थर्ड पार्टी प्लेटफॉर्म मौजूद है संदेश को भेजने के लिए.

लेकिन जो ईमेल होता है ना वह बड़ा ही ट्रस्टेड और ऑथेंटिकेटेड होता है. इसमें होता यह है ना कि कोई भी व्यक्ति अपने विशेष संदेश को विशेष तरह के डॉक्यूमेंट, कोड्स, फाइल, इमेजेस, वीडियो और भी कई तरह के डॉक्यूमेंट को भेज सकता है, किसी दूसरे व्यक्ति को.

> रैम क्या होता हैं – mobile ram kya hai in hindi

> How to type in hindi – हिंदी में कैसे लिखते हैं

> HTTP क्या हैं – what is HTTP in hindi

ईमेल में 3 पार्ट होता है, उदाहरण के लिए आप देखते हैं [email protected] यहां पर abc ईमेल में व्यक्ति का यूजर नेम है.

@ शब्द दिखाता है कि email किस वेबसाइट पर स्थित है यानी कौन सी वेबसाइट इसे होस्ट कर रही है.

और वेबसाइट का नाम यह बताती है कि इस वेबसाइट पर यह यूजरनेम मौजूद है. ये सब मिलाकर एक विशेष व्यक्ति की पहचान होती हैं.

ई मेल क्या हैं
ई मेल क्या हैं

ईमेल का जन्म दाता Ray Tomlinson को मन जाता हैं. जिन्होंने पहला मेल 1971 में भेजा था.

दुनिया के 5 बेहतरीन ई-मेल वाले वेबसाइट –

Gmail – जैसा कि आप जानते हैं कि गूगल इस दुनिया में इंटरनेट की सबसे बड़ी कंपनी है बल्कि इंटरनेट का पर्याय भी अब गूगल ही है. गूगल की सर्विस को दुनिया में सबसे अच्छा माना जाता है और गूगल का जीमेल इस दुनिया में सबसे ज्यादा यूज होने वाला ईमेल वेबसाइट है. बल्कि दुनिया में ऐसा कोई व्यक्ति नहीं है जिस का जीमेल पर आईडी नहीं होगी।

yahoo – दूसरे नंबर पर अमेरिका की एक बहुत बड़ी कंपनी याहू का नाम आता है जो कि मार्केट में तो बहुत पहले से है एवं गूगल के समकक्ष ही मानी जाती है पर धीरे-धीरे इसका क्रेज घटता जा रहा है. एक समय था जब याहू पर मेल बनाना जीमेल से भी ज्यादा प्रसिद्ध था.

outlook – तीसरे नंबर पर माइक्रोसॉफ्ट का आउटलुक आता है और आउटलुक पर अपनी आईडी बनाना व्यक्ति के लिए तब जाहिर सी बात हो जाती है जब वह एक विंडोज का कंप्यूटर चलाता है. क्योंकि विंडोज माइक्रोसॉफ्ट का ही है इसलिए आउटलुक पर आईडी बनाना अब जरूरी सा हो गया.

zoho – जोहो ईमेल मार्केटिंग के लाइन में तो बहुत देर से आया लेकिन वह अपनी पहचान बनाने में कामयाब हो पाया चौथे नंबर पर सबसे इसी का इस्तेमाल होता है.

Rediffmail – पांचवे नंबर पर भारत की कंपनी रेडिफमेल का नाम आता है उसका भारत के लोग सबसे ज्यादा इस्तेमाल करते हैं.

ईमेल एड्रेस कैसे बनाते हैं –

तो जैसा कि आप जानते हैं कि आपको अगर ईमेल बनाना है तो उसके लिए आपको किसी स्पेसिफिक वेबसाइट पर जाकर वहां पर अपने यूजरनेम को रजिस्टर करना पड़ता है. सबसे पहले आपको एक वेबसाइट का चयन करना पड़ेगा। जिस पर आप अपने यूजरनेम को रजिस्टर करा सकें।

सूर्य ग्रहण कैसे होता है – solar eclipse in hindi

प्रथम चरण – यहां पर उदाहरण के लिए आपको बताते हैं अगर आपको जीमेल पर ईमेल आईडी बनानी है तो सबसे पहले आपको create new account पर क्लिक करना पड़ेगा. फिर वहां पर आपको अपने विभिन्न प्रकार की जानकारियों को भरना पड़ेगा. जैसे मोबाइल फोन, सिक्योरिटी क्वेश्चन और पासवर्ड जैसे चीजों को भरना पड़ेगा.

द्वितीय चरण – दूसरे चरण में आपको अपनी ईमेल एड्रेस के लिए एक यूजर नेम का चुनाव करना पड़ेगा जो आपको आपकी एक नई पहचान लेगा। आप के नए ईमेल एड्रेस वाली वेबसाइट पर. याद रहे आपका चुना हुआ username यूनिक होना चाहिए।

तृतीय चरण – तीसरा चरण में आपको आपको अपने मोबाइल फोन को अपनी ईमेल एड्रेस के साथ sync करने के लिए आपको अपने मोबाइल पर आए ओटीपी को वेरीफाइड करना पड़ेगा। जिसके बाद आप जीमेल पर अपने एक नए ईमेल एड्रेस को प्राप्त कर पाएंगे।

चतुर्थ चरण – चौथे चरण में आप किसी भी प्रकार के फाइल टेक्स्ट वीडियो image को जिस भी व्यक्ति को भेजना है, उस व्यक्ति का ईमेल एड्रेस to वाले ऑप्शन पर भरकर आप भेज सकते हैं. और अपने inbox पर विभिन्न प्रकार के ईमेल को प्राप्त कर सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here