सरसों का सबसे ज्यादा उत्पादन किस राज्य में होता है

sarso ka utpadan – सरसों के दाने भारत में एक बहुत ही महत्वपूर्ण मसाले की तरह से इस्तेमाल किए जाते हैं. सरसों के तेल से निकलने वाला तेल तो भारत की जान है. हर एक घर में सरसों का तेल तो होगा ही. बिना सरसों के तेल के सब्जी बनाना भारत में लगभग नामुमकिन हैं.

इसके अलावा सरसों के पत्ते सरसों की साग की तरह काम करते हैं जो उत्तर भारत में बहुत ही ज्यादा प्रसिद्ध है. सरसों के साग में बहुत ही ज्यादा आयरन और कुछ मिनरल्स पाए जाते हैं. जो हेल्थ के लिए बहुत अच्छे होते हैं. इतनी सारी गुणवत्ता होने के कारण ही भारत में सरसों की खेती बहुत ही ज्यादा होती है.

दक्षिण भारत की गंगा किसे कहते हैं – south ganga

खासतौर पर उत्तर भारत में जब बसंत के मौसम में सरसों के पीले पीले फूल वाली हरियाली खेतों को बिल्कुल सजा देते हैं. आज इस आर्टिकल में जानेंगे भारत में सबसे ज्यादा सरसों का उत्पादन किस राज्य में होता है…

सरसों का सबसे ज्यादा उत्पादन वाला राज्य –

भारत में सबसे ज्यादा सरसों का उत्पादन राजस्थान और हरियाणा में होता है. जहां पर सरसों की खेती के लिए उपयुक्त संसाधन मौजूद हैं. हालांकि सरसों का उत्पादन पूरे उत्तर भारत में बहुत ही अच्छे तरीके से होता है. क्योंकि उत्तर भारत में सरसों की तेल की खपत ज्यादा है.

मसालों का सर्वाधिक उत्पादन किस राज्य में होता है

इसलिए बिहार उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में भी सरसों की खेती बहुत ही जोरों शोरों पर होती है. राजस्थान का भरतपुर और अलवर जैसे जिले सरसों की खेती के लिए पूरे भारत भर में प्रसिद्ध हैं. इसके अलावा हरियाणा का रेवाड़ी और पंजाब के जालंधर और अमृतसर जैसे इलाके सरसों की खेती के लिए सबसे ज्यादा प्रसिद्ध है.

केसर का सर्वाधिक उत्पादन किस राज्य में होता है

भारत में सरसों की खेती कई प्रकार की होती है. हम भारत में पीले सरसों की का प्रयोग भी बहुत ज्यादा होता है. तो काली सरसों का प्रयोग भारत में हर घर में होना अनिवार्य सा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here