Home अन्तरिक्ष बुध ग्रह के कुछ रोचक तथ्य

बुध ग्रह के कुछ रोचक तथ्य

67

बुध ग्रह के कुछ तथ्य :-

क्या आपको पता है, सूर्य से सबसे ज्यादा नजदीक होने के बावजूद, बुध ग्रह सूर्य का सबसे गर्म ग्रह नहीं है बल्कि शुक्र सबसे ज्यादा गर्म ग्रह है। और mercury ग्रह पर 1 दिन पृथ्वी के 58.6 दिन के बराबर होता है अगर आप ऐसे ही कुछ रोचक तथ्य mercury ग्रह के बारे में जानना चाहते हैं तो आप ही आर्टिकल पढ़िए।

  • बुध ग्रह की त्रिज्या यानी रेडियस 2,440 किलोमीटर है, यानी व्यास में 4,880 किलोमीटर। इस हिसाब से देखें तो mercury सौरमंडल का सबसे छोटा ग्रह है।
  • बुध ग्रह का आयतन (volume) पृथ्वी के आयतन का 0.056 गुना है, इस हिसाब से देखें तो पृथ्वी में लगभग 18 mercury ग्रह समा सकते हैं।
  • बुध पर 1 साल मात्र 88 दिन का होता है। यानी mercury सूर्य का चक्कर पृथ्वी के 88 दिन में ही कर लेता है। इसके अलावा mercury पर 1 दिन पृथ्वी के 58 दिन और 15 घंटे के बराबर होता है, mercury पर एक दिन इतना बड़ा होने का कारण mercury का रोटेशन स्पीड (rotation speed) बहुत ही स्लो होना है। mercury का रोटेशन स्पीड 10.89 किलोमीटर प्रति घंटा है।

Image result for mercury planet

 

  • जैसा कि मैंने आपको पहले भी बताया है कि बुध सूर्य से ज्यादा नजदीक है सूर्य से पहले नंबर पर, फिर भी फिर भी mercury सौरमंडल में शुक्र के बाद दूसरे नंबर पर सबसे गर्म ग्रह में आता है। इसका कारण mercury ग्रह का जो हिस्सा सूर्य की तरफ होता है वह तापमान में लगभग 427 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाता है। पर जहां अंधेरा रहता है यानी जहां सूर्य की रोशनी नहीं पहुंचती है। वहां तापमान -173℃ हो जाता है। जिसके कारण यह सबसे गर्म ग्रह नहीं है।
  • बुध ग्रह पर सौर मंडल में मौजूद किसी भी ग्रह से ज्यादा गड्ढे हैं जो mercury का comets और asteroid से टकराने की वजह से हुआ था। mercury ग्रह पर एक गड्ढा तो 1550 किलोमीटर की चौड़ाई कितना बड़ा है।
  • बुध ग्रह, पृथ्वी के बाद सौरमंडल का दूसरा सबसे ज्यादा घनत्व वाला ग्रह है। mercury की density 5.4 gm/cm³ है। और पृथ्वी की डेंसिटी 5.5 gm/cm³ हैं।
  • बुध पर गुरुत्वाकर्षण पृथ्वी पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण का मात्र 38% ही है। जो कि mercury पर किसी वायुमंडल को बनाए रखने के लिए बहुत ही कम है। mercury पर जो भी वायुमंडल है वह सौर हवा द्वारा बहा लिया जाता है। हालांकि गैसे भले ही सौर हवा द्वारा बहा ली जाती हैं। पर नई गैसेस भी सौर हवा द्वारा दोबारा ले आई जाती हैं। और यह क्रम चलता रहता है इसका मतलब यह है कि mercury पर एक हल्का वायुमंडल है।
  • बुध ग्रह का ऑर्बिट यानी सूर्य के चारों ओर चक्कर लगाने की कक्ष सौरमंडल के आठ ग्रहों में सबसे Elliptical है, यानी mercury की कक्षा बिल्कुल circle नहीं है।
  • बुध ग्रह के आसमान में जो चमकीला तारा के रात में दिखाई देता है, सुबह और शाम होने पर भी पर भी दिखाई देता है, क्योंकि यह पृथ्वी की कक्षा के अंदर स्थित है।
  • बुध एक स्थलीय ग्रह है, जिसे अब तक आप जान ही गए होंगे। mercury की सतह में आयरन की मात्रा ज्यादा है। और mercury का कोर बिल्कुल liquid form में है।

यही जानकारी विडियो के रूप में जानने के लिए ये विडियो देखिये –

https://www.youtube.com/watch?v=fDRrTTWF0uE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here