आदमियों के शरीर के कुछ तथ्य – facts about male body in hindi

facts about male body in hindi – दोस्तों आदमियों का शरीर भी औरतों के शरीर की तरह काफी यूनीक फीचर लिए हुए अपने साथ बस आदमी को शरीर में है कुछ ऐसे हार्मोन जो उन्हें बनाता है औरतों से थोड़ा अलग.

आज आपको इस आर्टिकल में आदमी के शरीर के बारे में कुछ ऐसे facts बताएंगे जो आपको हैरान कर देगा और आप कहोगे कि यह बात तो आप पहले जानते ही नहीं थे चलिए जानते हैं…

1. आदमियों में निप्पल क्यों होते हैं –

क्या आप यह जानते हैं कि आदमी के सीने पर निपल्स क्यों होते हैं. लोग इसे एक taboo समझते हैं. इसलिए इस पर कभी बात नहीं करना चाहते।

पर guys आप इस बात को जब पूरी तरीके से जानेंगे। जब आप इसका साइंस समझेंगे तो आपको मजा ही आ जाएगा

वैसे बात शुरू होती है जब एक बच्चा अपनी मां के गर्भ में होता है तब वह होता है कई सारे सेल्स के एक गोल गेंद के रूप में.

उस समय तक गर्भ में पल रहा भ्रूण अपने विकास की अवस्था में रहता है और आपको जानकर आश्चर्य होगा कि प्रेग्नेंसी के सातवें हफ्ते तक हर एक भ्रूण एक फीमेल जेंडर वाला ही होता है.

यानी शुरुआत में हर एक भ्रूण एक फीमेल ही होता है. पर गर्भ के सातवें हफ्ते में वाई क्रोमोसोम के प्रभाव से ऐसा हार्मोन बनाने लगता है जो uterus में सेक्स ऑर्गन डिवेलप करने लगता है.

और fetus male बच्चा बन जाता है. अब क्योंकि हर एक fetus शुरू में फीमेल ही होता है. इसलिए एक male के भी निप्पल होते हैं पर एक मेल सेक्स हार्मोन आदमियों में ब्रेस्ट डिवेलप होने नहीं देता है.

2. आदमी क्यों होते हैं औरतों से लम्बे (facts about guys in hindi) –

क्या आप जानते हैं कि आदमी की लंबाई औरतों से ज्यादा क्यों होती है. guys अगर आप growth पीरियड में चल रहे हो तो यह बात जानकर आप अपने लंबाई को बढ़ा भी सकते हो.

इसलिए यह बात जान आपके लिए बहुत ही ज्यादा इंपोर्टेंट है. दरअसल आदमी और औरतों में डिफरेंस होने का कारण हॉर्मोन होता है.

लड़कियों में एस्ट्रोजन हार्मोन होता है जो लड़कियों को लड़की बनाता है और लड़कों में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन होता है. जो लड़कों में लड़का जैसे लक्षण लाता है.

वैसे यह दोनों ही हार्मोन लड़का और लड़की दोनों में ही होता है पर लड़कियों में एस्ट्रोजन और लड़कों में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन ज्यादा होता है.

फीमेल सेक्स हार्मोन एस्ट्रोजन हार्मोन जो ज्यादा होने पर हड्डियों की ग्रोथ प्लेट को फ्यूज कर देता है.

जब लड़कियों में सेक्स ऑर्गन डेवलप होते हैं तो यह हार्मोन सीक्रेट करने लगता है जो लड़कियों में हाथ पैर जैसी लंबी हड्डी ग्रोथ को फ्यूज कर देता है और लड़कियां 14 साल की उम्र के बाद grow नहीं कर पाती हैं.

लड़कों में टेस्टोस्टेरोन की मात्रा ज्यादा होती है जो मज़बूत musle मास और हड्डी बनाने में मदद करता है. लेकिन लड़कों में भी होता है थोड़ा बहुत एस्ट्रोजन हार्मोन जो जब ज्यादा बहने लगता है तो उन के भी ग्रोथ प्लेट फ्यूज हो जाता है.

एक समय के बाद लड़कों में भी हाइट बढ़ाना रोक देता है पर जब तक हार्मोन मेल्स के ग्रोथ प्लेट को फ्यूज करते हैं तब तक तो टेस्टोस्टेरोन लड़कों के हाइट को अच्छा खासा बढ़ा देता है.

तो अगर आपको अपनी हाइट बढ़ानी है तो एस्ट्रोजन के लेवल को कम रखिए।

3. लडको के कंठ निकले हुए क्यों होते हैं –

क्या आप जानते हैं कि आदमियों या लड़कों के गले में कठोर से भरा हुआ कंठ क्यों होता है इसे इंग्लिश में कभी-कभी ऐडम्स एप्पल के नाम से भी बुलातें है पर भारत में जब हम इसे कंठ ही बुलाते हैं.

दरअसल लड़कों में जब puberty आती है तब लड़कों में होने जाता है मेल सेक्स हार्मोन टेस्टोस्टेरोन का सेक्रेशन बहुत ज्यादा जो लड़कों में दाढ़ी मूछ और लंबाई का बढ़ना जैसी चीजों को बढ़ाता है.

और एक टेस्टोस्टेरोन हार्मोन लड़के और आदमियों के गले में वोकल कॉर्ड को प्रोडक्ट करने वाले कार्टिलेज जो 9 पार्ट्स में बंटा रहता है एक बड़ा सा थाइरॉएड कार्टिलेज बनकर एक उभरे हुए भाग के रूप में हमें दिखाई देता है.

माना जाता है कि ऐसा हुआ है मनुष्य के evolution के कारण। वैज्ञानिक बताते हैं जब मनुष्य अपने आज के रूप में नहीं था जब मनुष्य का विकास हो रहा था तब मनुष्य को महिलाओं को आकर्षित करने और जंगली जानवर से बचाने जैसे चीजों के लिए और भारी आवाज की जरूरत पड़ती थी.

जिसके कारण के कारण मर्दों की आवाज को भारी करने के लिए थायराइड कार्टिलेज सख्त हुआ.

महिलाओं के बारे में जानकारी – रोचक तथ्य

4. लडके लड़कियों से धीरे बूढ़े होते हैं (facts about male body in hindi)-

क्या आपको पता है कि आदमियों की चमड़ी लड़कियों की तुलना में धीरे-धीरे बूढी होती है जहां 40 के बाद लड़कियों में बुढ़ापा साफ साफ दिखना शुरू हो जाता है वहीं लड़कों में बुढ़ापा लड़कियों की तुलना में बहुत ही धीमें होता है.

हमारे स्कीन में nutrients होते हैं जो समय के साथ बनते रहते हैं और हमारे स्किन को पोषण देते रहते हैं.

ये न्यूट्रिएंट्स हैं कॉलेजन, कॉलेजन हमारे स्किन को यंग बनाए रखने में मदद करता है पर एजिंग के साथ कॉलेज में जब हमारे स्किन में बनना धीमे होता है तो यह लड़कियों में नई-नई स्किन के बनने को जल्दी ही धीमे कर देता है

और लड़कों में यह कई साल तक बना रहता है जो लड़कों को समय से जल्दी बुढा नहीं होने देता।

बताया जाता है कि एक same age के लड़का और लड़की में, लड़की 15 साल तक ज्यादा बड़ी दिखाई देती है केवल इस कॉलेज इन की वजह से.

5. लडके गंजे क्यों होते हैं –

आपने कभी यह ध्यान दिया है कि लड़कियों के बाल लड़कों से हमेशा लंबे ही क्यों होते हैं guys इसमें भी साइंस है. आप लड़कों को हमेशा छोटे छोटे बालों के साथ या फिर गंजे ही देखते होंगे।

दरअसल लड़कों का मेल सेक्स हार्मोन टेस्टोस्टेरोन लड़कों के सिर के स्किन में मौजूद एक एंजाइम 5-alpha रिडक्टेंट्स के साथ joint होकर एक केमिकल डीएचडी का निर्माण कर लेता है जो लड़कों के बाल को बीच से गंजा करने लगता है.

पर ये तब ही होता है जब लड़कों के अंदर टेस्टोस्टेरोन की मात्रा ज्यादा होती है और अगर आपके फैमिली में किसी का बाल बहुत ज्यादा झड़ता है या आपके पापा के बाल बहुत कम है या वह गंजे हैं तो आपके बाल भी झड़ेंगे।
गलत दिनचर्या और न्यूट्रिएंट्स की कमी से भी लड़कों में बालों का झड़ना जल्दी शुरू हो जाता है.

पर घबराइए मत गंजे लोगों को कई लोग सेक्सी का सिंबल भी मानते हैं और पुरुषों के पूरे बाल झड़ने में 15 से 20 साल तक लग जाते हैं.

6. लडके काम भावुक क्यों होते हैं –

आप यह तो जानते ही होंगे कि लड़कियां लड़कों से ज्यादा इमोशनल होते हैं पर ऐसा क्यों होता है? लड़कों का नाता इमोशन से क्यों नहीं होता लड़की जल्दी रोते क्यों नहीं है.

यह बात तो आप जानते ही होंगे कि लड़कों को यह बात बचपन से ही सिखाई जाती है कि यह रोना-धोना यह कमजोर लोगों की निशानी हैं अगर तुम रोगे या जल्दी भावुक हो जाओगे तो तुम मर्द की तरह मजबूत नहीं दिखोगे वगैरा-वगैरा….

यह बातें केवल यहीं तक सीमित नहीं है दरअसल मर्द हमेशा बातों को लॉजिकली हल करना पसंद करते हैं वही औरतें जहां अपने दिमाग से ज्यादा इमोशनली बातों को हल करने में विश्वास रखतीं हैं.

और साइकोलॉजिस्ट बताते हैं कि रिलेशनशिप में यही प्रॉब्लम हर एक मर्द फेस करता है. दरअसल मर्द इमोशनली लोगों से इतना ज्यादा नहीं जुड़े रहते हैं और खुलकर अपनी प्रॉब्लम अपने पार्टनर के साथ कभी शेयर नहीं करते हैं

इसलिए अपने पार्टनर से वो उतना कनेक्ट नहीं रहते लेकिन ऐसा नहीं है कि आदमियों में फीलिंग्स होता ही नहीं है बस वह अपनी फीलिंग्स को एक्सप्रेस नहीं कर पाते

इसलिए कभी ऐसा मत सोचना कि लड़कियों की लड़कों में इमोशन होता ही नहीं हैं.

7. लडके लड़कियों से कम रंग देख पाते हैं –

लड़के दूर और पास के कलर शेड्स में आसानी से अंतर नहीं कर पाते हैं और ना ही ढंग से अंतर पहचान पाते हैं. कम से कम रिसर्च तो ये ही बताती है कि मर्दों के साथ ऐसा हो भी सकता है और नहीं भी हो सकता है.

कारण यह है कि मर्दों में एक एक्स क्रोमोसोम होता है और एक वाई क्रोमोसोम और हमारी आंखों में मौजूद cone cells की वजह से हम रंगों में अंतर समझ पाते हैं.

और हमारे genetics में cone cell की मात्रा और उनमें यह इंफॉर्मेशन x-chromosome में ही ज्यादा कोडेड रहती है.

लड़कों में यह x chromosome केवल एक ही होता है वही लड़कियों में यह x chromosome 2 होते हैं.

इसलिए लड़कियां कलर शेड्स चाहे वह दूर का हो या पास का हो उन्हें आसानी से अंतर कर पातीं हैं.

8. लड़कों में दाढ़ी मूछ क्यों (facts about male body in hindi)-

आप यह तो जानते ही होंगे कि आदमियों में दाढ़ी मूछें होती है पर क्या आप ही जानते हो कि छोटे-छोटे बाल और रोएं लड़कियों के चेहरे पर भी होते हैं

पर लड़कियों में छोटे-छोटे बाल बड़े-बड़े दाढ़ी मूछ के रूप के रूप में क्यों नहीं दिखाई देते हैं.

दरअसल इसका कारण लड़कों में मेल सेक्स में हार्मोन टेस्टोस्टेरोन है

जो इन छोटे छोटे बालों को बड़े-बड़े दाढ़ी मूछ में बदल देता है लड़कों में जब puberty आने आती है तब

9. लड़कों का दिमाग लड़कियों से बड़ा –

क्या आप जानते हैं कि पुरुषों का दिमाग महिलाओं की तुलना में ज्यादा बड़ा होता है वॉल्यूम में और होना भी चाहिए क्योंकि पुरुषों में ज्यादा muscle mass होता है. जिसे कंट्रोल करने के लिए ज्यादा न्यूरॉन्स की आवश्यकता पड़ती है.

पर इसका मतलब यह नहीं है कि पुरुषों का बड़ा दिमाग महिलाओं के छोटे आकार के दिमाग से सुपीरियर होता है.

पुरुषों में यह बड़ा ब्रेन केवल उनके बॉडी के कंपैरिजन में ही होता है ना कि उनके higher iq को दिखाता है.

10. लड़कों में मोटे मोटे नसों का उभर क्यों –

आप देखते होंगे कि जब मर्द एक्सरसाइज करते हैं तो उनके बॉडी पर बड़े-बड़े नसों का उभार आ जाता है. इसका कारण क्या है ? क्या आपको पता है ?

दरअसल आदमी के शरीर में फैट का डिस्ट्रीब्यूशन शरीर के अंगों के बीच होता है जबकि लड़कियों में फैट का अधिकतम डिस्ट्रीब्यूशन उनके स्किन के नीचे ही होता है जो उनके नसों को ढक देता है.

वहीं पुरुषों में फैट उनके स्किन के नीचे बहुत ही कम होता है जो उन्हें बहुत ज्यादा एक्सरसाइज करने पर स्किन पर उभार के रूप में सामने आ जाता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here