Home भूगोल what causes wind ? हवा कैसे बहती है ?

what causes wind ? हवा कैसे बहती है ?

105
what causes wind

आपने कभी सोचा है कि हवा कैसे बहती है (what causes wind), कभी यह हवा हल्की हल्की बहती है, तो कभी भयंकर आंधी और तूफान बन कर बहती है. आखिर क्या है यह हवा और इस हवा का कारण क्या है (what causes wind), आज आप इसको और इसके कारण को जान जाओगे…

करते हैं एक प्रयोग (what causes wind)

आप एक गुब्बारा लीजिए, गुब्बारे में हवा भरिये है, गुब्बारे में आप जैसे ही हवा भरते हो, आप देखते हो कि गुब्बारे के अंदर प्रेशर बहुत ही ज्यादा हो गया है. हवा के प्रेशर से गुब्बारा फूल गया है यानी गुब्बारे के अंदर हाई प्रेशर बन गया है, वहीं गुब्बारे के बाहर इतना प्रेशर नहीं है. गुब्बारे के बाहर लो प्रेशर है. अब अगर आप गुब्बारे में से हवा को बाहर निकालते हो तो आप ध्यान देते हो कि आपको गुब्बारे के हाई प्रेशर की वजह से हवा के बहने जैसा प्रतीत होता है. इस एक्सपेरिमेंट से आप यह जान गए होंगे कि हवा, उच्च दबाव वाले क्षेत्र से निम्न दबाव वाले क्षेत्र की तरफ बहती है, आप समझ गए होंगे की हवा कैसे बहती हैं( (what causes wind).

हमारे पृथ्वी पर भी ऐसा ही होता है पृथ्वी के जिस हिस्से में निम्न दबाव होता है वहां पर उच्च दबाव वाले क्षेत्र में मौजूद गैस के कण बहकर निम्न दबाव वाले क्षेत्र की तरफ आ जाते हैं. अब आप यह जान गए होगे कि हवा ,गैस कणों कि मूवमेंट को कहते हैं और यह हवा उच्च दबाव से निम्न दबाव की तरह बहती है (what causes wind) और हमारे पृथ्वी पर भी ऐसा ही होता है.

कैसे बनता हैं पृथ्वी पर निम्न दबाव

अब यह प्रश्न उठता है कि पृथ्वी पर निम्न दबाव से बनता कैसे है? हमारे पृथ्वी पर सूर्य की रोशनी की मात्रा अलग-अलग जगहों पर अलग-अलग पड़ती है. भूमध्य रेखा पर यानी इक्वेटर पर सूर्य की रोशनी सबसे ज्यादा पड़ती है और जहां पर पृथ्वी का भाग मुड़ा हुआ है यानी पृथ्वी का surface जहां पर कर्व है, वहां सूर्य की रोशनी सबसे कम पड़ती है.

पहाड़ क्या हैं और ये कैसे बनते हैं

अब आप यहां ध्यान दीजिए, पृथ्वी के जिस जिस हिस्सों पर सूर्य की रोशनी ज्यादा पड़ती है वहां पर गर्मी भी ज्यादा होती है. पृथ्वी के वातावरण में 78% नाइट्रोजन के गैस कण, 21% ऑक्सीजन की गैस कण और बचे हुए 1% में बाकी के बचे हुए गैस आते हैं. और इन्हीं गैस कणों की वजह से ही पृथ्वी पर वायुमंडलीय दबाव भी बना रहता है. जब वातावरण का टेंपरेचर बहुत ही ज्यादा हो जाता है तो, यह गैस के कण गर्म होकर ऊपर उठने लगते हैं और फैलने लगते हैं. जैसे यह ऊपर उठकर फैल जाते हैं, उस जगह पर जहां से यह गैस कण गर्म होकर ऊपर उठ गई है, वहां पर निम्न दबाव बन जाता है और जब दबाव कम हो जाता है तब उच्च दबाव वाले जगह से गैस के कण उस लो प्रेशर वाले जगह पर बहना शुरू हो जाते हैं, और इसी को हम हवा का बहना कहते हैं. तो अब आप पूरी तरीके समझ गए होंगे कि हवा बहने का क्या कारण (what causes wind) हैं.

समुद्र तट पर इसलिए बहती हैं हवा

समुद्र के तट पर भी ऐसा ही होता है समुद्र के तट पर गैस सूर्य की रोशनी के कारण से गर्म होकर ऊपर उठ जाती है और वहां पर लो प्रेशर क्रिएट हो जाता है और फिर समुद्र से, जहां पर हाई प्रेशर रहता है वहां से गैस निम्न दबाव वाले जगह की तरह बहना शुरू कर देते हैं और इसी वजह से समुद्र के तट पर हवा ज्यादा बहती है (what causes wind)

जानकारी विडियो से लीजिये

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here