Home GK उत्तर प्रदेश का सबसे छोटा जिला कौन सा हैं

उत्तर प्रदेश का सबसे छोटा जिला कौन सा हैं

उत्तर प्रदेश का सबसे छोटा जिला – उत्तर प्रदेश में कुल 75 जिले हैं. जिनमें छोटे बड़े सब तरह के जिले हैं. उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा जिला है, लखीमपुर खीरी।

जो कि 7,680 किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है. जहां भारत के अन्य राज्य में इससे भी कई बड़े क्षेत्रफल के जिले मौजूद हैं.

क्योंकि वहां पर जनसंख्या उत्तर प्रदेश के मुकाबले कम है.

वही उत्तर प्रदेश में ज्यादा जनसंख्या होने के कारण छोटे क्षेत्रफल के कई सारे जिले मौजूद हैं.

और आज इस आर्टिकल में हम यही जानेंगे कि उत्तर प्रदेश का सबसे छोटा जिला कौन सा है.

uttar pradesh ka sabse chota jila

1. हापुड़ (Hapur) –

हापुड़ जिला उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले से 2011 में अलग किया गया था.

और यह जिला दिल्ली एनसीआर क्षेत्र में आता है.

जिले का क्षेत्रफल 660 किलो मीटर स्क्वायर है. और इस जिले में लगभग 14,00,000 लोग रहते हैं.

hapur जिले की तीन तहसीलें हैं: हापुड़, गढ़मुक्तेश्वर और धौलाना.

2. संत रविदास नगर (sant ravidas nagar) –

संत रविदास नगर या भदोही जिला उत्तर प्रदेश का क्षेत्रफल के मामले में दूसरा सबसे छोटा जिला है.

यह जिला मिर्जापुर से अलग किया गया था इस जिले का मुख्यालय ज्ञानपुर है.

और यह जिला बनारस और इलाहाबाद के बीच में पड़ता है.

जिले का क्षेत्रफल 960 किलोमीटर स्क्वायर है और इस जिले में लगभग 17 लाख लोग रहते हैं.

uttar pradesh ka sabse chota jila, bhadohi district

3. शामली (shamali) (uttar pradesh ka sabse chota jila) –

उत्तर प्रदेश का यह जिला हरियाणा से सटा हुआ है. 2011 में मुजफ्फरनगर जिले से अलग करके शामली जिला का निर्माण किया गया था.

जिसे पहले प्रबुद्ध नगर का नाम दिया गया था. जिसे बाद में बदलकर शामिल किया गया.

इस जिले का क्षेत्रफल 1,063 किलो मीटर स्क्वायर है. और किस जिले में कुल 14 लाख लोग रहते हैं.

4. बाग़पत (baghpat) –

बागपत जिला दिल्ली एनसीआर में आता है. और यह यूपी के कुछ सबसे छोटे जिलों में से भी गिना जाता है.

जिले का क्षेत्रफल 1,321 किलोमीटर है और इस जिले में लगभग 14 से 15 लाख लोग रहते हैं.

भारत का सबसे बड़ा जिला

भारत का सबसे छोटा जिला