Home स्वास्थ्य कैसे बनते हैं आंसू || how tears are formed

कैसे बनते हैं आंसू || how tears are formed

298
0
Manipulation Sad Tears Crying Art Design Eye
कैसे बनते हैं आंसू :-

जो जानकारी आज मैं आपको देने जा रहा हूं वह आपके जीवन से जुड़ी हुई है, खैर मैं चाहूंगा कि वह आपकी जिंदगी से नहीं जुड़ी रहे। लेकिन सच्चाई तो यही है। आज हम आपको आंसू के बारे में बताने जा रहे हैं कि यह biologicaly कहां से आते हैं।

आंखो की संरचना :-

आंसू के बारे में समझने के लिए आपको सबसे पहले आंख की संरचना को समझना पड़ेगा, जो कि मैं आपको बहुत ही साधारण भाषा में समझाता हूं, जिससे आपको बिना किसी समस्या के इस बात को समझने में आसानी हो। आंख की संरचना बिल्कुल गोल गेंद की तरह होती है, जो कि मानव के चेहरे के हड्डी में आंखों के कोटरों में मांस पेशियों द्वारा फिट रहती है। इसके बीच बटन जैसी संरचना होती है जिसे आयरिश (iris) कहते हैं। उस आइरिस के बीच में छोटी सी गोल गहरे रंग की संरचना को प्यूपिल (pupil) कहते हैं। eye Ball यानी आंखों के ऊपर पलकें होती है। जिसे इंग्लिश में eyelid कहते हैं। यह सब जानकारी अगर आप को पहले से ही है तो ठीक है, नहीं तो आपको यह समझ लेना चाहिये। नहीं तो आपको आंसुओं के कांसेप्ट के बारे में समझ नही आएगा।

ये है आंसू के निर्माण का कारण :-

तो इतना कुछ बताने के बाद अब हम आपको यह बता सकते है कि आंसू कहां से आते हैं। आंखों में आंसू आने का कारण हमारे आंखों में eye Ball और पलकों के बीच में स्थित lacrimal gland होता है। चित्रों को ध्यान से देखकर आप lacrimal gland की पोजीशन को बहुत ही आसानी से समझ सकते हैं। lacrimal gland एक ग्रंथि होती है, ग्रंथियां वह होते हैं जो कुछ विशेष chemical का स्राव करते हैं। अगर आपको यह समझने में दिक्कत हो रही है, तो आपको यह जान लेना चाहिए कि ग्रंथिया यानी gland शरीर का एक महत्वपूर्ण अंग है, और शरीर में कई जगह होती है। और सब का काम अलग अलग होता है। अब यह जान लेते हैं कि lacrimal gland आंसुओं को आंखों तक कैसे लाता है? Lacrimal gland सदैव निरंतरता के साथ आंसुओं का निर्माण करता रहता है। वैसे आपको यह बताते चलें कि हमारे आंखों के ऊपर आंसुओं की परत चढ़ी होती है, जो हमारी आंखों की धूल जैसी चीजों से रक्षा करती है। इसीलिए हमने आपको बताया कि lacrimal gland काम करता रहता है। जहां पर मैं arrow से पॉइंट कर रहा हूं।

 

वहां पर तो बहुत ही छोटे छोटे छिद्र होते हैं जिसे puncta बोलते हैं। जैसे कि हमने आपको यह बता दिया है कि आंसू आंख में आते हैं और फिर वहां से बाहर निकल जाते हैं। अब ध्यान दीजिए सारे आंसू बाहर नहीं निकलते हैं बल्कि कुछ आंसू आंख में से दो छिद्र जिसे puncta कहते हैं, वहां से होते हुए lacrimal sac में आ जाता हैं। और वहां से आंसू हमारे नाक से होते हुए बाहर निकल जाता है। यह बिल्कुल एक duct की तरह होता है। यही कारण है कि जब हम रोते हैं तो हमारी नाक बहने लगती है।दरअसल वो आंसू होते हैं जो आंखों से नाक तक आते हैं। तो बहुत ही संक्षेप में हमने आपको यह बता दिया है कि आंसू आते कहां से हैं।

यही जानकारी विडियो के रूप में जानने के लिए ये विडियो देखिये –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here